Skip to content Skip to navigation

13 खनन कंपनियों पर जुर्माने का 2400 करोड़ बकाया, वसूली के लिए सरकार ने भेजा नोटिस

अकेले सेल पर 1350 करोड़ रुपया जुर्माना बाकी

NEWSWING

Ranchi, 12 October : राज्य खनन विभाग के अधीन झारखंड में खनन कार्य में लगी 15 कंपनियों के पास खनन विभाग का 24 अरब यानि 2400 करोड़ का बकाया है. खनन कार्य में लगी इन कंपनियों ने तय सीमा से ज्यादा उत्खनन कर लिया था. इसी वजह से विभाग ने उत्खनन कार्य में लगी सभी 14 कंपनियों पर फाइन लगाया था. कंपनियों ने रॉयल्टी की रकम विभाग में जमा करा दी, लेकिन फाइन की रकम अदा करने में आना-कानी कर रही है. विभाग इन कंपनियों को लगातार नोटिस जारी कर बकाये का भुगतान करने का आदेश देती रही है. लेकिन झारखंड निर्माण के बाद से अब तक यानि 2000 से लेकर अब तक की फाइन की रकम अदा करने में कंपनियां कोई दिलचस्पी नहीं ले रही है. निजी कंपनियों के अलावा पब्लिक सेक्टर की कंपनी भी फाइन की रकम दबाकर बैठी है. बकायेदारों में 12 निजी कंपनियां और एक केंद्र सरकार की स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड शामिल है. अकेले सेल पर खनन विभाग का 1350 करोड़ रूपये का बकाया है.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सक्रिय हुआ विभाग

राज्य के खान निदेशालय के निदेशक एसआई मिंज ने बताया कि बकाये राशि की भुगतान के लिए 13 कंपनियों को नोटिस जारी किया गया है. उन्होंने बताया कि इन कंपनियों ने सरकार को रॉयल्टी का भुगतान तो कर दिया, लेकिन तय मात्रा से ज्यादा का उत्खनन करने पर लगे फाइन को अदा नहीं की है. उन्होंने शाह कमीशन की रिर्पोट का जिक्र करते हुए कहा कि जितने भी खनन पट्टेधारी को पर्यावरणीय स्वीकृति मिली है या नहीं मिली है, वो सभी क्वांटिटी लिमिट को अगर पार कर गया है तो उसे फाइन देना होगा. सुप्रीम कोर्ट ने एक आदेश जारी कर सरकार से बड़े बकायेदारों से फाइन की वसूली के लिए कड़े कदम उठाने की बात कही थी. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद खनन विभाग ने बड़े बकायेदारों के खिलाफ कार्रवाई करनी शुरू कर दी है.

कंपनियां जिन पर फाइन किया गया है

लीज घारक कंपनियां      लीज एरिया       फाइन की राशि

ओम                         घाटकुरी            36.27 करोड़

एमएल जैन                  करमपदा           21.82 करोड़

रामेश्वर जूट मिल्स           बरइबुरू टटीबा    47.45 करोड़

श्रीराम मिनिरल्स कंपनी     खासजामदा        41.99 करोड़

पदम कुमार जैन            राजाबेरा            07.15 करोड़

सीपी सारदा                 इतरबलजोरी       01.14 करोड़

सेल                          किरीबुरू           300 करोड़

सेल                          मेघाहातूबुरू        181 करोड़

सेल                          गुआ                612 करोड़

सेल                          धोबिल              228 करोड़

रूंगटा माइंस लि.           मेरालगारा          20 करोड़

रूंगटा माइंस लि.           घाटकुरी            92.8 करोड़

एनकेपीके                   घाटकुरी            182 करोड़

एनकेपीके                   मेरालगारा          19.5 करोड़

शाह ब्रदर्स                  करमपदा           194.5 करोड़

देवकाबाइ भेलजी           अजीताबुरू        31.7 करोड़

देवकाबाइ भेलजी           अजीताबुरू        02.7 करोड़

उषा मार्टिन                 घाटकुरी            39.1 करोड़

पीके जैन                    ठाकुरानी           335.1 करोड़

Slide
City List: 
Share

Add new comment

loading...