नौकरी दिलाने के नाम पर छात्रों से ठग लिये 85 हजार, थाने में मैनेज हो गया मामला

Publisher NEWSWING DatePublished Wed, 02/14/2018 - 18:31

Ranchi : पंडरा ओपी के निभानगर के रहने वाले मनोज दास और पिठोरिया निवासी रामजीत महतो ने कई युवाओं को नौकरी दिलाने के नाम पर ठग लिया. मंगलवार को दोनों आरोपियों को कोतवाली थाने को सौंपा गया. पुलिस ने जब आरोपियों से इस मामले में पूछताछ की, तो आरोपी ने पैसे लेने की बात स्वीकार की. साथ ही आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वह लोग कमीशन लेकर सेल्समैन की नौकरी लगाने का काम करते हैं. कोतवाली थाने की पुलिस ने पूछताछ के बाद दोनों आरोपियों को पंडरा पुलिस के हवाले कर दिया. आरोपियों से बुधवार को पंडरा ओपी में बॉन्ड भरवाया गया, जिसमें 20 हजार रुपये लौटाने की बात कही गयी. इधर छात्रों का आरोप है कि उनसे 85 हजार रुपये की ठगी की गयी है. वहीं छात्रों ने बताया कि थाने की मिलीभगत की वजह से सभी छात्रों को राशि नहीं लौटायी जा रही है.

इसे भी पढ़ेंः जो शहीद हो गए, उनके आश्रित को नौकरी कब मिलेगी यह पता नहीं, पर नक्सली को सरेंडर के समय ही नौकरी देने का प्रस्ताव

सभी पीड़ित ग्रामीण क्षेत्र के रहने वाले हैं

पीड़ित छात्र-छात्रा रांची के आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के रहने वाले हैं. सभी रांची के ही विभिन्न कॉलेजों में पढ़ाई करते हैं. ये छात्र अपनी पढ़ायी का खर्च निकालने और परिवार का बोझ कम करने के लिए पार्ट टाइम जॉब करना चाहते थे. इन सभी से राशि लेने के बाद जनवरी तक नौकरी लगाने की बात कही गयी थी, लेकिन जब जनवरी में मनोज से संपर्क किया गया, तो मोबाइल बंद था.  

इसे भी पढ़ें - कांग्रेस जिला अध्यक्ष शंकर यादव की बम ब्लास्ट में मौत, दो की हालत नाजुक

इसे भी पढ़ें - बीजेपी में मेयर और डिप्टी मेयर के नामों पर राय-शुमारी तेज, डिप्टी मेयर के लिए ठेकेदार और व्यवसायी कर रहे हैं सबसे ज्यादा दावा

पवन के हाथों ली गयी थी राशि

पीड़ित छात्र-छात्राओं ने बताया कि नौकरी के नाम पर पवन के माध्यम से मनोज को राशि दी गयी थी. मनोज ने राशि लेकर आठ से बारह हजार की नौकरी लगाने की बात कही थी, लेकिन राशि लेने के बाद नौकरी भी नहीं मिली और राशि भी ले ली. अब छात्रों द्वारा पवन से राशि की मांग की जा रही है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.