झारखंड में 415 स्थानों पर आरएसएस की 676 शाखाएं प्रतिदिन लगती हैं : राकेश लाल

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 03/13/2018 - 20:04

Ranchi : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ झारखण्ड प्रान्त की ओर से आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए सह प्रांत कार्यवाहक राकेश लाल ने कहा कि हर वर्ष संघ के सर्वोच्च प्रतिनिधि सभा की बैठक मार्च माह में होती है. प्रत्येक तीन वर्ष के बाद सर कार्यवाहक जी का चुनाव होने के कारण यह बैठक नागपुर में होती है. इस बार सर्वसम्मति से सुरेश भैया जी जोशी जी का चुनाव अगले तीन वर्षों के लिए सर कार्यवाह के लिए हुआ है. 

इसे भी पढ़ेंः पत्थलगड़ी के नाम पर लोगों को भड़काने वालों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई : झारखंड सरकार

इसे भी पढ़ेंः झारखंड सरकारी कर्मचारियों को सांतवा वेतनमान के भत्ते पर कैबिनेट की मुहर, राज्य निर्वाचन आयोग की हरी झंडी के बाद मिलेगा लाभ

इसे भी पढ़ेंः रांची नगर निगम : जानिये किस वार्ड में हैं आप, बदल गया है आपका क्षेत्र

35 संगठनों के शीर्षस्थ प्रतिनिधि उपस्थित रहे 

इस बैठक में देश के कुल 95 प्रतिशत जिलों से आये हुए 1538 प्रतिनिधि उपस्थित रहे. बैठक में परिवार के कुल 35 संगठनों के शीर्षस्थ प्रतिनिधि उपस्थित रहे. झारखण्ड के 24 जिलों में अपना संघ का कार्य चल रहा है. देश में 37190 स्थानों पर 58967 शाखाएं प्रतिदिन लगती हैं. साप्ताहिक मिलन 16405, मासिक मिलन 7976, ऐसे कुल 83348 संघ की गतिविधियां चलती है.

झारखंड के कुल 669 कार्यकर्ताओं ने लिया भाग 

झारखंड में 415 स्थानों पर 676 शाखाएं प्रतिदिन लगती है. साप्ताहिक मिलन 234, मासिक मिलन 64 हैं कुल 974 संघ कार्य चलते है.. कुल 259 सेवा बस्ती के 167 बस्तियों में अपना सेवा कार्य चल रहा है. देश भर में संघ शिक्षा वर्ग प्रथम वर्ष, द्वितीय वर्ष व तृतीय वर्ष का 86 स्थानों पर आयोजन हुआ, जिसमें 24139 कार्यकर्ताओं ने प्रशिक्षण प्राप्त किया, जिसमें झारखण्ड के कुल 669 कार्यकर्ता भाग लिए.

इसे भी पढ़ेंः पलामू : कुख्यात अपराधी बंधु शुक्ला पर पुलिस ने कसा शिकंजा, जेसीबी से मकान को किया ध्वस्त

इसे भी पढ़ेंः सचिवालय कर्मियों की कलमबंद हड़ताल : मुख्य सचिव से वार्ता के बाद मिला आश्वासन, मांगें पूरी नहीं होने पर जायेंगे सामूहिक अवकाश पर

झारखंड में चल रहे हैं 11154 सेवा कार्य 

1180 स्थानों पर आयोजित सात दिवसीय प्रशिक्षण वर्गों में कुल 95318 कार्यकर्ताओं ने प्रशिक्षण प्राप्त किया. झारखण्ड में कुल 24 स्थानों पर 2713 कार्यकर्ताओं ने प्रशिक्षण लिया. इस प्रशिक्षण में स्वयंसेवकों की क्षमता बढ़ाना, समाजमुख व्यवहार करना, व्यक्तित्व विकास पर बल दिया जाता है. झारखण्ड में 11154 सेवा कार्य चल रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः पलामू: कठौतिया कोल माइंस से कोयला लेकर निकल रहे वाहनों पर फायरिंग और बमबारी

इसे भी पढ़ेंः पलामू: नकल करते 32 परीक्षार्थी धराये, सभी एक्सपेल्ड, दो वीक्षक भी निलंबित, केंद्राधीक्षक को शोकॉज

80 से अधिक जनजाति के स्वयंसेवक पूर्ण गणवेश में रहे उपस्थित

उन्होंने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि -गत 21 जनवरी को गुवाहाटी में उत्तर असम प्रांत का लुइतपोरिया हिन्दू समावेश का विशाल एकत्रीकरण संपन्न हुआ. कुल 31151 स्वयंसेवक उपस्थित थे. यह एक अभूतपूर्व और विशेष कार्यक्रम असम के संघ इतिहास में हुआ. उसमें 80 से अधिक जनजाति के स्वयंसेवक पूर्ण गणवेश में उपस्थित थे. इस अवसर पर सह क्षेत्र संघ चालक देवब्रत पाहन और प्रांत के सह प्रचार प्रमुख संजय कुमार आजाद उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.