राजस्थान के बांसवाड़ा में मिला 11.48 करोड़ टन सोने का भंडार

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 02/10/2018 - 12:36

Jaipur: भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग के अनुसार राजस्थान के बांसवाडा, उदयपुर जिले में 11.48 करोड़ टन के सोने के भंडार का पता लगाया जा चुका है.भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग के महानिदेशक एन कुटुम्बा राव ने यहां संवाददाताओं से बातचीत करते हुए यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि राजस्थान में सोने की खोज में नयी संभावनायें सामने आयी हैं, उदयपुर और बांसवाडा जिले के भूकिया डगोचा में सोने के भंडार मिले हैं.

इसे भी पढ़ें - जीरो टॉलरेंस वाली सरकार ने नहीं करायी 3000 करोड़ रुपये के मुआवजा घोटाला की विस्तृत जांच

उन्होंने बताया कि राजस्थान में 35.65 करोड़ टन के सीसा जस्ता के संसाधन राजपुरा दरीबा खनिज पटटी में मिले हैं. इसके अलावा भीलवाड़ा जिले के सलामपुरा एवं इसके आस-पास के इलाके में भी सीसा जस्ता के भंडार मिले हैं.
राव के अनुसार राजस्थान में वर्ष 2010 से अब तक 8.11 करोड़ टन तांबे के भंडार का पता लगाया जा चुका है. जिसमें तांबे का औसत स्तर 0.38 प्रतिशत है. उन्होंने बताया कि राजस्थान के सिरोही जिले के देवा का बेडा, सालियों का बेडा़ और बाड़मेर जिले के सिवाना इलाकों में अन्य खनिज की खोज की जा रही है.

उन्होंने कहा कि प्रदेश में उर्वरक खनिज पोटाश व ग्लुकोनाइट की खोज के लिए नागौर, गंगापुर (करोली), सवाई माधोपुर में उत्खनन का काम चल रहा है. इन जिलों में पोटाश एवं ग्लुकोनाइट के भंडार मिलने से भारत की उर्वरक खनिज की आयात पर निर्भरता कम होगी.

इसे भी पढ़ें - 2022 तक झारखंड विकसित राज्य की श्रेणी में होगा : मुख्यमंत्री

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.