उम्रकैद की सजा काट रहे 233 कैदी हो सकते हैं रिहा, झारखंड राज्य सजा पुनरीक्षण की बैठक में बनी सहमति

Publisher NEWSWING DatePublished Mon, 04/09/2018 - 13:32
प्रतिकात्मक फोटो

Ranchi: रांची में प्रोजेक्ट भवन में झारखंड राज्य सजा पुनरीक्षण की बैठक हुई. सीएम की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में जेल आईजी, गृह सचिव, डीजीपी और झारखंड राज्य कारा से संबंधित तमाम अधिकारी मौजूद रहे. मीटिंग में राज्य के विभिन्न जेलों में बंद उम्रकैद की सजा काट रहे 233 बंदियों को छोड़ने पर सहमति बनी है. इसमें 78 अनुसूचित जनजाति के बंदी है और इनमें 6 महिलाएं भी शामिल हैं. इस बैठक में कुल 233 प्रस्तावों पर चर्चा हुई.

इसे भी पढ़ें:बीजेपी विधायक पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने की खुदकुशी की कोशिश, पिता की हिरासत में मौत

बैठक के दौरान झारखंड जेलों के अधिकारियों ने कैदियों के आचरण पर अपना मंतव्य रखा. उसी मंतव्य के आधार पर बैठक में बंदियों को छोड़े जाने पर सहमति बनी है. फिलहाल गृह सचिव एसके जी राहाटे की तरफ से पूरी सूची उपलब्ध नहीं कराई गई है जिससे यह साफ हो सके कि बंदियों को छोड़े जाने की जिलावार संख्या क्या है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Main Top Slide
City List of Jharkhand
loading...
Loading...