राजधानी में तीन पहाड़ का नाबालिग मोबाइल चोर गिरोह सक्रिय

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 02/13/2018 - 16:49

Chandi dutta jha

Ranchi: राजधानी में मोबाइल चोर गिरोह का नाबालिग सदस्य सक्रिय रूप से काम कर रहा है. तीन पहाड़ मोबाइल चोर गिरोह का सदस्य आये दिन राजधानी में कहीं ना कहीं घटना को अंजाम दे रहा है. इसी मोबाईल चोर गिरोह के एक नाबालिग सदस्य को हाल में ही सुखदेवनगर पुलिस ने पकड़ा था. गिरफ्तार नाबालिग चोर गढ़वा बस में चढ़ रहे यात्री का मोबाईल चुराते रंगे हाथ पकड़ा गया था. यात्री ने उस नाबालिग चोर को सुखदेवनगर पुलिस के हवाले कर दिया था. पुलिस की पूछताछ में नाबालिग चोर ने कई चौकाने वाले खुलासे किये. तीन पहाड़ गिरोह का रांची सॉफ्ट टारगेट रहा है. पूर्व में भी कई नाबालिग चोर और गिरोह को पुलिस ने पकड़ा है फिर भी कोई ना कोई गिरोह सक्रिय हो जाता है. 

इसे भी पढ़ेंः पांच साल बाद व्यक्ति की मौत का खुलासा, जमीन के लिए बेटे ने की थी पिता की हत्या

रोज 100 से 150 रुपये तक दिये जाते हैं

गिरोह का सरगना इन बच्चों से मोबाईल चोरी करवाता है, इसके बदले 100 से 150 रुपये रोज दिया जाता है. महंगे मोबाईल लाने पर 500 रुपये तक दिया जाता है. अगर किसी दिन मोबाईल नहीं ला सका, तो कोई राशि नहीं दी जाती है.

तीन पहाड़ से बच्चों को लाकर रांची में दी जाती है ट्रेनिंग

गिरोह का सरगना राजा महतो उर्फ नेनुआ है. जो साहेबगंज का रहने वाला है. साहेबगंज से बच्चों को लाकर रांची में ही मोबाईल चोरी की ट्रेनिंग दी जाती है. ट्रेनिंग के बाद इन बच्चों को चोरी के काम में लगा दिया जाता है. सूत्रों की मानें तो अबतक मोबाईल चोरी करते हुए पकड़े गये 40 नाबालिग पुलिस को सौंपे जा चुके हैं.

इसे भी पढ़ेंः हत्या के एक वर्ष बाद हुआ मामले का खुलासा, निर्दोष खा रहे थे जेल की हवा, हत्यारे घूम रहे थे बाहर

पिस्कामोड़, आईटीआई बस स्टैंड में सक्रिय हैं गिरोह के सदस्य

सूत्रों से मिली खबर के अनुसार गिरोह के सदस्य सुखदेवनगर थाना क्षेत्र और पंडरा थाना क्षेत्र में ही किराये के मकान में रहते हैं. गिरोह के सदस्य बस स्टैंड, सब्जी मंडी और भीड़-भाड़ वाले इलाके में सक्रिय रहते हैं. मौका देखते ही मोबाइल चुरा कर फरार हो जाते हैं. नवंबर 2017 में किराये के मकान से ही आरोपी को पकड़ा गया था, जिसके पास से पुलिस ने 40 मोबाईल भी बरामद किये थे.

इसे भी पढ़ेंः पाकुड़ : कुख्यात नक्सली पुलिस हेम्ब्रम चढ़ा पुलिस के हत्थे, भेजा गया जेल

पूर्व में भी रांची में सक्रिय रहा है तीन पहाड़ गिरोह

केस स्टडी एक

फरवरी 2017 को दो नाबालिग चोर मोबाइल चुराते हुए रंगे हाथ पकड़े गये थे. पकड़े गये नाबालिग को कोतवाली थाना में सौप दिया गया था. दोनों चोर तीन पहाड़ के ही रहने वाले थे. गिरफ्त में आये नाबालिग ने कोतवाली पुलिस को बताया कि गिरोह का सरगना संजय है. जो बच्चों से चोरी करवाता है.

केस स्टडी दो

अक्टुबर 2017 में भी तीन पहाड़ के मनीष और एक नाबालिग चोर को पकड़ा गया था. पुलिस ने इनलोगों के पास से 40 मोबाईल बरामद किये थे. गिरोह के सदस्य बुलेट से घूमकर मोबाईल चोरी करते थे, चोरी की गयी मोबाईल को साहेबगंज के ग्रामीण इलाकों में बेचा जाता था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Special Category
City List of Jharkhand
loading...
Loading...

NEWSWING VIDEO PLAYLIST (YOUTUBE VIDEO CHANNEL)