अधिकारीगण सावधान ! सोच-समझ कर मुस्कुराइए आप विधानसभा में हैं, हंगामा हो सकता है...

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 01/20/2018 - 17:54

Akshay Kumar Jha

Ranchi: झारखंड बजट सत्र का चौथा दिन. सत्र के चौथे दिन चार पालियों में सदन की कार्यवाही 40 मिनट ही चली. जब-जब सदन शुरू हुआ विपक्ष ने सीएस राजबाला वर्मा, डीजीपी डीके पांडेय और एडीजी अनुराग गुप्ता को लेकर हंगामा किया. नतीजतन सदन की कार्यवाही तीन बार स्थगित करनी पड़ी. हर बार की भांति इस बार भी पूरे कार्यवाही के दौरान एक बार फिर विपक्षी दल के तरफ से प्रदीप यादव चैंपियन रहे. उन्हें घेरने के लिए सत्ता पक्ष की तरफ से पांच-पांच विधायकों को लगाया गया था. ठीक वैसे ही जैसे किसी फुटबॉल मैच में बड़े खिलाड़ी को काउंटर करने के लिए तीन-चार खिलाड़ी लगाये जाते हैं. हद तो तब हो गयी जब विधायक प्रदीप यादव ने विरोध में अपने जूते को अपने हाथों में उठा लिया और सर तक ले गए. वहीं अधिकारी दीर्धा में जितने अधिकारी बैठे हुए थे, वो पहली बार ऐसा महसूस कर रहे थे कि वो इन बातों पर हंसें,  या फिर चेहरे का एक्सप्रेशन गंभीर मुद्रा वाला रखें. क्योंकि, विपक्ष ने सदन में सीएस राजबाला वर्मा के मुस्कुराने का भी मामला मुद्दा में तबदील कर दिया था.

समय 11.08 मिनटः सदन की कार्यवाही शुरू हुई. अध्यक्ष दिनेश उरांव का सदन में इंट्री लेना था कि विपक्ष ने हंगामा करना शुरू कर दिया. आदतन प्रदीप यादव सबसे पहले खड़े हुए और सीएस, डीजीपी और एडीजी पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर अपनी बात रखन लगे. जैसे ही प्रदीप यादव खड़े हुए उन्हें काउंटर करने के लिए विधायक मनीष जायसवाल, राज सिन्हा, बीरंची नारायण, अनंत ओझा और रामकुमार पाहन एक साथ खड़े हो कर प्रदीप यादव का विरोध करने लगे. उनका कहना था कि रोज-रोज सदन को हाईजैक कर लिया जाता है. अध्यक्ष ने हंगामा शांत कराया और विपक्ष की तरफ से लाए गए दो कार्यस्थगन प्रस्ताव को हमेशा की तरह अमान्य कर दिया गया.

इसे भी पढ़ेंः सीएस राजबाला के हंसने पर सदन में बरपा हंगामा, विपक्ष ने हाथ में जूते लेकर कहाः सदन का उड़ाया मजाक या रघुवर पर हंसीं राजबाला

jytj

हेमंत सोरेन ने बोलना शुरू किया. कहा कि किसी अधिकारी की वजह से एक भी आदमी की जान जाती है तो क्या उसपर कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए. क्या सदन में गरीबी, भुखमरी और दर्द की बात करना गलत है.

प्रदीप यादव ने कहा कि पद का दुरुपयोग कर के सीएस राजबाला वर्मा ने एक बड़े बैंक के अधिकारी को अपने बेटे के कंपनी में निवेश करने को कहा. इस बाबत सरकार के ही मंत्री सरयू राय ने सीएम को चिट्ठी लिखकर कार्रवाई करने की मांग की थी. बात की जानकारी अधिकारी ने ट्विट कर के दी. क्या इतने गंभीर आरोप लगने पर कार्रवाई नहीं होनी चाहिए.

सीएम ने कहाः इस प्रकरण की जांच हो रही है. जांच स्पेशल ब्रांच कर रहा है. (मुख्यमंत्री एक बार फिर से यही सवाल छोड़ गए. आखिर एक सीनियर आईपीएस की जांच कोई कनीय अधिकारी कैसे कर सकता है ?) सीएम के इस बात पर सदन में खूब हंगामा होने लगा. सत्ता पक्ष और विपक्ष के तरफ से नारेबाजी शुरू हो गयी. सत्ता पक्ष के विधायकों का नारा था सदन को हाईजैक करना बंद करो, बंद करो”, तो विपक्षियों का नारा था अफसरों की चाटुकारिता बंद करो, बंद करो”.

11.24 बजे से 12.45 बजे तक के लिए सदन स्थगित कर दी गयी. सदन की कार्यवाही 16 मिनट चली.

इसे भी पढ़ेंः बजट सत्र का चौथा दिन भी रहा हंगामेदार, विपक्ष ने लहराया न्यूज विंग, सदन स्थगित

हेमंत सोरेन की तरफ से जोक ऑफ द डे

सदन के बाहर हेमंत सोरेन मीडिया से बात कर रहे थे. उन्होंने कहा कि सीएम कह रहे हैं कि बैंक अधिकारी के ट्विट के मामले की जांच स्पेशल ब्रांच कर रहा है. ये आज का जोक ऑफ द डे है. कहा कि सबसे बड़ी बात कि स्पेशल ब्रांच के एडीजी अनुराग गुप्ता हैं. वो भी एक मामले में आरोपी हैं. हम उन्हें भी पदमुक्त करने की मांग कर रहे हैं. ऐसे में कैसे एक सीनियर आईएएस के मामले के जांच का जिम्मा कनीय अधिकारी को कैसे दिया जा सकता है. कहा सीएम एक गैंग बनाकर काम कर रहे हैं. इस गैंग में सीएम, सीएस, डीजीपी और एडीजी शामिल हैं. पूरा गैंग राज्य को लूटने में लगा हुआ है. कहा कि सीएम कहते हैं कि हाथी उड़ रहा है. दिसंबर में लू चले. जून में बर्फ गिरे और हाथी उड़ने लगे तो इसे विकास कहेंगे या आपदा. सत्ता ने सदन में विपक्ष को फुटबॉल बना दिया है.

twt

12.51 मिनट पर दूसरी पाली शुरू

कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष का हंगामा शुरू. विपक्ष वेल में आ गया. नारे लगने लगे सीएस को बर्खास्त करो”.  अध्यक्ष ने प्रदीप यादव से अनुपूरक बजट पर कटौती प्रस्ताव पेश करने को कहा. प्रदीप यादव ने कहा कि पहले उन मामलों पर क्या कर रहे हैं हुजूर. हंगामा बढ़ा तो कार्यवाही दूसरी बार 12.53 मिनट पर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी. 

आखिर सीएस क्यों मुस्कुरायीं, कि प्रदीप यादव ने जूता उठा लिया

2.11 मिनट पर तीसरी पाली शुरू हुई. कार्यवाही शुरू होते ही प्रदीप यादव ने अपनी बात रखनी शुरू कर दी. हंगामा होने लगा. अध्यक्ष ने कहा शुन्यकाल में क्या चाहिए इसपर विचार करने की जरूरत है. आपलोग ऐसे मत कीजिए. इतने पर प्रदीप यादव ने सीएस के मुस्कुराने का मामला उठाया. कहा कि जब कल सीएम सीएस राजबाला वर्मा को निर्दोष साबित कर रहे थे, तो अधिकारी दीर्घा में बैठीं सीएस राजबाला वर्मा हंस रही थीं. वो आखिर किसपर हंस रही थीं. क्या वो सदन पर हंस रही थीं. या सीएम पर हंस रही थीं. मामले की जांच होनी चाहिए. कहा कि सीएम कहते हैं कि सीएस ने चाईबासा की डीसी रहते हुए कोई बड़ी गलती नहीं की. प्रदीप यादव ने ट्रेजरी नियमावली के 4 और 73 की धाराओं को बढ़ कर सुनाया और कहा कि इन धाराओं के मुताबिक सीएस ने संगीन अपराध किया है. लिहाजा उनपर कार्रवाई होनी चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-11 : जब्त हथियार से फायरिंग कर सार्जेंट मेजर ने मुठभेड़ का साक्ष्य बनाया, फिर जांच के लिए एफएसएल भेजा

rty

प्रदीप यादव के इतना कहते ही हंगामा शुरू हो गया. हंगामे के बीच 2.17 बजे प्रदीप यादव ने अपने जूते खोल लिए. उन्होंने जूतों को हाथ से उठाया और सर तक ले गए. वो कह रहे थे कि जूते की जगह पैरों में है ना कि हाथ और सर पर. इसलिए जिसकी जो जगह है वहीं रखे जाने की जरूरत है. हेमंत सोरेन ने कहा कि कैसे सीएस की जांच का जिम्मा कनीय अधिकारी को दिया जा सकता है. अध्यक्ष महोदय मामले पर आपको नियमन लाना चाहिए. आखिर सीएम किस मजबूरी के कारण इतने बड़े मामले पर इतने आराम से हैं. जिस पर कार्रवाई होनी चाहिए वो सदन की हंसी उड़ा रही हैं. इससे सीएम की हंसी उड़ रही है.       

राधा कृष्ण किशोर अध्यक्ष से बार-बार कहने लगे महोदय कड़ी कार्रवाई की जरूरत है. आसन कमजोर नहीं होना चाहिए. विपक्ष अपनी जगह से खड़ा होने लगा. नारे लगने लगे. सीएस को हटाना होगा, हटाना होगा”. राधा कृष्ण किशोर ने अपने विधायकों को कहा सब खड़े हो कर कहें सीएस नहीं हटेगी, नहीं हटेगी”. 2.22 बजे विपक्ष वेल में आ गया. हंगामा अपने चरम पर था. 2.23 मिनट पर कार्यवाही तीन बजे तक स्थगित कर दी गयी.

शोर-शराबे में अनुपूरक बजट पास

3.03 बजे चौथी पाली शुरू हुई. शुरू होते ही हंगामा. संसदीय कार्य मंत्री सरयू राय ने अनुपूरक बजट के शिष्टाचार को पूरा किया. नारेबाजी के बीच सदन 23 तारीख तक के लिए स्थगित कर दिया गया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...

NEWSWING VIDEO PLAYLIST (YOUTUBE VIDEO CHANNEL)