एचईसी सीएमडी ने न्‍यूज विंग को बताया, कैसे बढ़ रहा है लगातार घाटा (देखें वीडियो)

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 02/09/2018 - 17:53

Ranchi: एचईसी के निजिकरण के संबंध में मीडिया में आई खबरों पर सीएमडी अभिजित घोष ने एक नयी जानकारी दी है. सीएमडी ने कहा है कि एचईसी के निजिकरण की सूचनायें हमें नहीं है, सरकार के मंत्रालय की ओर से हमें कोई भी दिशा-निर्देश प्राप्‍त नहीं हुआ है. हमारा अभी एक ही काम है कि हम साल 2017-18 के लक्ष्‍य को पूरा करें.

60 साल पुरानी मशीनों से हो रहा है काम

एचईसी सीएमडी ने न्‍यूज विंग के साथ खास बातचीत में बताया कि एचईसी को हो रही घाटे के बारे में बताया कि हमें पहले यह देखना है कि लॉस हमें क्‍यों हो रही है. हमारे यहां ज्‍यादातर इक्‍यूपमेंट जर्जर हो गये हैं. 60 साल पुराने मशीनरी पर अभी भी काम करना पड़ रहा है. बाहर से आये एक्‍सपर्ट की टीम ने यह देखकर शाबाशी दी कि पुराने संयंत्रों को मेंटेन करके हम काम कर रहे हैं. उन्‍होंने बताया कि एचईसी के मशीने पुराने होते हुए भी काम कर रही हैं, इन मशीनों की उत्‍पादन क्षमता कम हुयी हैं. इसकी वजह से हम समय से अपना टारगेट पूरा नहीं कर पा रहे हैं और उत्‍पादन के लागत में भी बढ़ोतरी हो रही है. इसलिए एचईसी का घाटा लगातार बढ़ रहा है.

रेलवे, डिफेंस और न्‍यूक्लियर सेक्‍टर के नये कामों से बढ़ेगा मुनाफा

सीएमडी अभिजित घोष ने बताया कि घाटे को पुरा करने के लिए कंपनी ने समयबद्ध तरीके से एक्‍शन प्‍लान बनाया है. उन्होंने कहा कि इस बिजनेस प्‍लान के तहत हमलोगों ने मार्केटिंग स्‍ट्रेटजी को बदला है. अभी तक हमलोग स्‍टील और माइनिंग सेक्‍टर में इक्‍विपमेंट सप्‍लाई करते थे. यह लॉंग साइकिल प्रोडक्‍ट होता था. अब हम शॉर्ट साइकिल प्रॉडक्‍ट की तरफ ज्‍यादा ध्‍यान दे रहे हैं. इसमें हमें ज्‍यादा मार्जिन मिलेगा. कम समय में हमारा वर्किंग कैपिटल मिलेगा. इसलिए अब हम रेलवे, डिफेंस और न्‍यूक्लियर सेक्‍टर की तरफ कदम बढ़ा रहे हैं. इसमें हमें अच्‍छी सफलता मिल रही है. आने वाले समय में हम इस तरह एसईसी को मुनाफा दिला सकेंगे.

वर्कर्स और यूनियंस से सीएमडी ने की अपील

सीएमडी ने कंपनी के वर्कर्स और यूनियन को न्‍यूज विंग के माध्‍यम से आश्‍वस्‍त किया है कि कंपनी की निजिकरण जैसी बातें निराधार है. यहां के वर्कर्स और यूनियन के लोगों को मिलकर एचईसी को आगे बढ़ाना है और इसके घाटे को कम करना है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.