त्रिपुरा में केंद्रीय योजनाओं का लाभ गरीबों को तभी मिलेगा, जब बीजेपी की सरकार बनेगी : योगी

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 02/13/2018 - 14:58

Agartalla: यूपी के सीएम योगी ने त्रिपुरा में चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि अगर बीजेपी चुनाव जीत कर यहां सत्ता में आती है, तो केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ गरीबों को मिलेगा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अगर त्रिपुरा में होने जा रहे विधानसभा चुनाव में भाजपा जीत कर सत्ता में आती है, तो यह सुनिश्चित होगा कि केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ गरीबों को मिले, चाहे वह पूर्वोत्तर का राज्य क्यों न हो.

इसे भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़ः अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदे की जांच की अपील कोर्ट में खारिज

यहां भाजपा सत्ता में आती है, तो केंद्र के साथ बेहतर संबंध बनाये रखेगी

पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने के लिए कल यहां आये आदित्यनाथ ने कहा कि वाम मोर्चा की सरकार ने त्रिपुरा में 25 साल तक शासन किया लेकिन वह विभिन्न केंद्रीय योजनाओं का लाभ गरीबों को देने में नाकाम रही. उन्होंने कहा कि अगर राज्य में भाजपा विधानसभा चुनाव जीत कर सत्ता में आती है, तो यह केंद्र के साथ बेहतर संबंध बनाए रखेगी और सभी केंद्रीय कल्याणकारी योजनाओं का लाभ गरीबों को मिलेगा.

त्रिपुरा के लोगों को केंद्र सरकार की प्रमुख योजनाओं के लाभ से वंचित किया गया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा, केंद्र और राज्य में सरकार में अगर एक ही पार्टी हो तो विकास योजनाओं का कार्यान्वयन आसान हो जाता है. उन्होंने यह भी कहा कि त्रिपुरा के लोगों को केंद्र सरकार की प्रमुख योजनाओं जैसे प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्टार्टअप इंडिया, स्टैंड अप योजना, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना सहित अन्य योजनाओं के लाभ से वंचित किया गया. त्रिपुरा में 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए 18 फरवरी को चुनाव होगा और परिणाम की घोषणा तीन मार्च को की जाएगी.

इसे भी पढ़ेंः पीएम की स्वास्थ्य सुरक्षा योजना से गरीबों का नहीं कॉरपोरेट का होगा भला

मुख्यमंत्री मानिक सरकार की विकास में कोई रूचि नहीं

आदित्यनाथ ने यह भी आरोप लगाया कि त्रिपुरा के मुख्यमंत्री मानिक सरकार और उनके सरकार की विकास में कोई रूचि नहीं रही, जबकि केंद्र ने शिक्षा, स्वास्थ्य और अन्य महत्वपूर्ण क्षेत्रों के लिए भारी कोष आवंटित किया. उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ माकपा त्रिपुरा में अराजकता को बढ़ावा दे रही है और यही वजह है कि उसे विधानसभा चुनाव में सत्ता से बेदखल करना जरूरी हो गया है.

बेहतर प्रशासन के लिए एकमात्र विकल्प भाजपा

आदित्यनाथ ने कहा ‘‘राज्य में बेहतर प्रशासन के लिए एकमात्र विकल्प भाजपा ही हो सकती है.’’ उन्होंने आरोप लगाया कि त्रिपुरा में कानून व्यवस्था पूरी तरह ठप हो गयी है और सरकार सत्ता में बने रहने का अधिकार खो चुकी है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.